ह्युमन इम्युनोडेफिशिएंसी वायरस या मानव रोगक्षमपयॉप्तता विषाणु (एचआईवी) क्या है?

एचआईवी(HIV) का पूरा नाम ह्युमन इम्युनोडेफिशिएंसी वायरस या मानव रोगक्षमपयॉप्तता विषाणु है। यह एक परिवार का एक सदस्य है जो एचआईवी संक्रमण का कारण बनता है और मुख्य रूप से असुरक्षित यौन संबंध (गुदा और मौखिक सेक्स सहित), संक्रमित व्यक्ति के दूषित रक्त संक्रमण, अशुद्ध संक्रमित हाइपोडर्मिक सुइयों और मां से बच्चे के लिए गर्भावस्था, प्रसव या स्तनपान द्वारा फैलता है। कुछ शारीरिक तरल पदार्थ, जैसे पसीना, लार, आँसू और मूत्र, एचआईवी संक्रमित नहीं करते हैं।

यदि आप इसका कोई उपचार नहीं करते तो यह एड्स (अधिग्रहित इम्यूनोडिफीसिअन्सी सिंड्रोम) को जन्म दे सकता है जो रोगों का एक समूह है जिसमें  प्रतिरक्षा तंत्र धीरे धीरे विफल होने लगता है और इसके परिणामस्वरूप कुछ समय बाद ऐसे अवसरवादी संक्रमण हो जाते हैं, जिनसे मृत्यु का खतरा होता है।

एड्स (अधिग्रहित इम्यूनोडिफीसिअन्सी सिंड्रोमक्या है?

एचआईवी और एड्स दोनों अलग-अलग है, एचआईवी प्रथम पड़ाव है और एड्स अंतिम पड़ाव है. यदि एचआईवी का उपचार नहीं किया तो यह एड्स का रूप ले सकता है जो की खतरनाक है जिसमे मृत्यु भी हो सकती है.symptoms of HIV & AIDS

एचआईवी के प्रकार क्या हैं?

यहा एचआईवी दो प्रकार का होता है :- एचआईवी -1 और एचआईवी -2
1. एचआईवी1 (HIV-1) वह वायरस है जो शुरू में खोजा गया था और अधिक वायरल, अधिक संक्रामक है, और दुनिया भर में एचआईवी संक्रमण के बहुमत का कारण है।
2. एचआईवी-2 यही आप देखे एचआईवी-1 की तुलना में एचआईवी-2 की संक्रामकता कम होने का मतलब यह है कि एचआईवी-2 के संपर्क में आने वाले लोगों में संक्रमण की प्रति संपर्क दर अपेक्षाकृत कम होगी।

एचआईवी के लक्षण

1. बुखार (बढ़ा हुआ तापमान)
2. शरीर लाल पड़ जाना तथा निशान
3. गले में खराश
4. सूजन ग्रंथियां
5. सरदर्द
6. पेट की ख़राबी
7. जोड़ों मैं दर्द
8. मांसपेशियों में दर्द

एचआईवी के लक्षण अलग अलग व्यक्ति मैं भिन्न हो सकते हैं और कुछ लोगों मैं तो बिल्कुल भी लक्षण नहीं मिलते हैं।
ध्यान दे:- एचआईवी संक्रमण के तीन मुख्य चरण हैं: तीव्र संक्रमण (acute infection), नैदानिक ​​विलंबता (clinical latency) और एड्स (AIDS)

तीव्र प्राथमिक संक्रमण

कुछ लोगों को एचआईवी संक्रमण के बाद 2-4 सप्ताह के भीतर फ्लू जैसी बीमारी का अनुभव हो सकता है। परन्तु इस अवस्था के दौरान कुछ लोग खुद को बीमार महसूस नहीं कर सकते हैं।

ध्यान दे:- उपरोक्त लक्षण कुछ दिनों से लेकर कई हफ्तों तक रह सकते हैं। इस समय के दौरान, संक्रमण एचआईवी परीक्षण पर दिखाई नहीं दे सकता है, लेकिन जिन लोगों को यह होता है वे अत्यधिक संक्रामक होते हैं और यह दूसरे व्यक्ति तक भी फैला सकते हैं.

Facebook Comments
Call Now Button

Get great tips by experts on Women's Health, Men's Health and relationships

Get great content delivered straight to your inbox every week, just a click away, Sign Up Now. Our promise = No spam
Email address